चलती ट्रेन से मोबाईल गिर जाए तो ऐसे आसानी से मिल जाएगा, बस फॉलो करनी होगी ये स्टेप्स

चलती ट्रेन से मोबाईल गिर जाए तो ऐसे आसानी से मिल जाएगा, बस फॉलो करनी होगी ये स्टेप्स

भारतीय रेलवे को देश के यातायात सिस्टम की धड़कन भी कहा जाता है। अधिकतर लोग रेल से ही सफर करना पसंद करते हैं। इससे सफर करना न सिर्फ किफायती होता है बल्कि सुविधाजनक भी होता है। नींद आने पर आप स्लीपर पर सो सकते हैं, बाथरूम आने पर ट्रेन में ही बने शौचालय का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा ट्रेन की खिड़की के नजदीक बैठ सफर करने का आनंद ही कुछ और होता है। इस दौरान कई अच्छे-अच्छे नजारे दिखते हैं। कई लोग खिड़की से ठंडी हवा के झोंके खाते हुए गाना सुनना भी पसंद करते हैं। वे कान में एयरफोन लगा गाने सुनते हैं।

अब जरा सोचिए क्या होगा यदि चलती ट्रेन में आपका मोबाईल फोन खिड़की से बाहर गिर जाए? ऐसा होने पर आपको यही लगेगा कि ‘लग गया हजारों का चुना। अब फोन मिलने की कोई उम्मीद नहीं है।’ लेकिन ऐसा नहीं है। आपको अभी भी आपका मोबाईल मिल सकता है। बस आपको एक खास प्रक्रिया को फॉलो करना होगा।

चलती ट्रेन से मोबाईल गिर जाए तो ध्यान रखें ये बातें
1. यदि आपका मोबाईल चलती ट्रेन से गिर जाए तो सबसे पहले घबराइए नहीं। आपको सबसे पहले रेलवे ट्रैक के किनारे लगे हुए पोल पर लिखे नंबर या फिर साइड ट्रैक के नंबर को खोजना होगा। ये रेलवे ट्रेक पर कुछ-कुछ दूरियों पर लगे होते हैं। आपको बस इन पर लिखे नंबर को याद रखना है। यदि आप याद न रख सकें तो इसे कहीं नोट भी कर सकते हैं।

2. अब आप ट्रेन में बैठे किसी अन्य यात्री का मोबाईल उधार लें और उससे RPF के हेल्पलाइन नंबर 182 पर कॉल करें। आपको उन्हें अपने मोबाईल के ट्रेन से गिरने की सूचना देनी है। इस दौरान आप उन्हें याद से पोल या ट्रैक नंबर बता दें। इससे उन्हें सही लोकैशन पर मोबाईल खोजने में मदद मिलेगी।

3. आपकी शिकायत मिलते ही RPF हेल्पलाइन नंबर की टीम जहां मोबाईल गिरा है उस क्षेत्र की रेलवे पुलिस से संपर्क करेगी। फिर वह पुलिस आपके खोए हुए मोबाईल की तलाश शुरू कर देगी। यदि उन्हें फोन मिलता है तो भारतीय रेलवे आपसे संपर्क करेगा।

4. इसके अलावा आप इस मामले की जानकारी GRP के हेल्पलाइन नंबर 1512 पर कॉल कर भी दे सकते हैं। वहीं रेलवे के हेल्पलाइन नंबर 138 पर कॉल कर के भी सहायता मांगी जा सकती है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हेल्पलाइन नंबर 138 का इस्तेमाल आप यात्रा में आने वाली किसी भी परेशानी में कर सकते हैं। इस नंबर से आपको मदद मिल जाएगी। ट्रेन में कोई इमरजेंसी होने या कोई दुर्घटना होने पर भी इस नंबर पर कॉल कर मदद मँगवाई जा सकती है।

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Prime News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *